Only News 24X7

Only news

BrahMos मिसाइल के लैंड अटैक वर्जन का परीक्षण सफल, भारत को मिली एक और कामयाबी

अंडमान और निकोबार: भारत ने मंगलवार को लैंड अटैक वर्जन (Land Attack Version) ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल (BrahMos Supersonic Cruise Missile) का अंडमान और निकोबार द्वीप सूमह (Andaman and Nicobar Islands) में परीक्षण किया. 

ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल (BrahMos Supersonic Cruise Missile) को सुबह 10 बजे एक द्वीप को टारगेट को बनाकर दागा गया और उसने सफलतापूर्वक अपने उस लक्ष्य वाले द्वीप को तबाह कर दिया.

आपको बता दें कि भारत (India) मिसाइल (Missile) से दूर तक मार करने की अपनी क्षमता को बढ़ाने के लिए बुधवार को कई ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल (BrahMos Supersonic Cruise Missile) का प्रक्षेपण करेगा. इसमें जमीन और समुद्र के लक्ष्यों को निशाना बनाया जाएगा. ये परीक्षण पश्चिम बंगाल के पास हिंद महासागर के क्षेत्र में किया जाएगा.

जान लें कि ये परीक्षण भारतीय सेना (Indian Army) द्वारा आयोजित किया गया था, जिसमें रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) द्वारा विकसित मिसाइल सिस्टम के कई रेजिमेंट हैं.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल (BrahMos Supersonic Cruise Missile) की मार करने की क्षमता अब 400 किलोमीटर तक बढ़ गई है.

उल्लेखनीय है कि इस परीक्षण की टाइमिंग को बेहद अहम माना जा रहा है. ऐसे समय में जब भारत (India) और चीन (China) के बीच सीमा विवाद गरम है, उस समय भारत का यह मिसाइल परीक्षण चीन (China) को कड़े संदेश के दौर पर माना जा रहा है.

भारत अरुणाचल प्रदेश और लद्दाख में चीन से लगने वाली सीमाओं पर पहले ही ये ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल (BrahMos Supersonic Cruise Missile) तैनात कर चुका है. पहले इसकी रेंज 290 किलोमीटर थी बाद में 400 किलोमीटर से ज्यादा तक कर दी गई है. अनुमान के मुताबिक, सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल 450 किलोमीटर से अधिक दूरी तक निशाने को तबाह कर सकती है.